अच्छी तरह से जान लीजिये आपको आपके सिवा कोई और सफलता नहीं दिला सकता
January 2019 - Online Job Alerts -->

Free Job Alert Service 2019

Hot

SEARCH IN HINDI

Followers

Tuesday, January 29, 2019

शिक्षाकर्मी भर्ती परीक्षा - 2019 , CM के ऐलान के 48 घंटे के भीतर शिक्षकों की भर्ती की प्रक्रिया शुरू

January 29, 2019 0
बेरोजगारों के लिए बड़ी खुशखबरी है! अब जल्द ही 15 हज़ार शिक्षकों का विज्ञापन निकलने वाला है। मुख्यमंत्री की घोषणा के बाद अब स्कूल शिक्षा विभाग ने तैयारी शुरू कर दी है। दरअसल मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 26 जनवरी को 15 हज़ार शिक्षकों की बहाली के एलान किया था। इस एलान के बाद अब विभाग ने अपने स्तर से तैयारी शुरू कर दी है। शिक्षा विभाग ने सभी DEO और जॉइंट डायरेक्टर को पत्र भेजकर जिले में स्वीकृत पद की जानकारी मांगी है। साथ ही आदेश में इस पत्र को प्रथमिकता में सबसे ऊपर रखने की हिदायत दी गयी है। आदेश में मांगी गई जानकारी के मुताबिक एजुकेशन और ट्राइबल दोनो विभागों के अंतर्गत संविलियन किये गए शिक्षाकर्मियों का डाटा भेजने को कहा गया है। आदेश में साफ कहा गया है कि समय सीमा में प्राप्त नहीं होने वाली सूचना पर उस जिले की भर्तियों को प्रस्तावित नहीं किया जाएगा।साथ ही सूचना नहीं भेजने पर DEO और जॉइंट डायरेक्टर को इसके लिए जिम्मेदार भी माना जायेगा।

 मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के संबोधन ने इस बात की तरफ इशारा कर दिया है। अब सीधे शिक्षक की नियुक्ति होगी और वो भी शिक्षा विभाग के जरिये। आज मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 15 हज़ार शिक्षक की बहाली का एलान किया है। इस एलान में जो सबसे अहम बात है, वो है शिक्षा विभाग के जरिये बहाली होगी।

ये संकेत उस लिहाज से भी अहम है क्योंकि जो 20 सालों से शिक्षाकर्मियों की नियुक्ति की जो परंपरा चली आ रही थी, वो परम्परा अब खत्म हो जाएगी। ये ना सिर्फ युवाओं के लिए खुशखबरी है, बल्कि संविलियन का इंतज़ार कर रहे शिक्षाकर्मियों की उम्मीदें भी बढ़ गयी है कि अब नई सरकार में उनके दिन बहुरेंगे। आपको बता दें प्रदेश में अभी 48 हज़ार शिक्षाकर्मी हैं, जिनका संविलियन नहीं हुआ है, जिनमें से करीब 10 हज़ार से ज्यादा शिक्षाकर्मियों का संविलियन सरकार को इसी साल जुलाई के बाद करना होगा, बाकी बचे 20 हज़ार के करीब ही संविलियन में बचेंगे। आपको बता दें भूपेश सरकार ने अपने घोषणा पत्र में इस बात की घोषणा की है, कि 2 साल की सेवा पूरी कर चुके शिक्षाकर्मियों का संविलियन कर दिया जाएगा। लिहाज़ा कल जब मुख्यमंत्री भूपेश बघेल NSUI के कार्यक्रम में पहुंचे थे, तो उस दौरान भी उन्होंने कहा कि, शिक्षाकर्मियों के लिए भी बहुत कुछ करना है। 54 हज़ार शिक्षाकर्मियों के पद रिक्त हैं वो भी भरना है। लेकिन उन सब के बीच मुख्यमंत्री का गणतंत्र दिवस पर 15 हज़ार शिक्षक की शिक्षा विभाग के जरिये बहाली के एलान ने सभी शिक्षा कर्मियों के साथ युवाओं में भी जोश भर दिया है, कि अब कुछ ना कुछ बेहतर होगा।

छत्तीसगढ़ पंचायत एवम नगरीय निकाय शिक्षक संघ प्रदेश मीडिया प्रभारी विवेक दुबे के मुताबिक सरकार का ये एलान बहुत शुभ संकेत है, साथ ये संकेत मिलना कि अब नियुक्ति शिक्षा विभाग के जरिये होगी युवाओं के भविष्य को लेकर निश्चिन्तता का भी संकेत है। 15 हज़ार शिक्षा विभाग के जरिये नियुक्ति होगी, इसका स्वागत करते हैं, लेकिन नयी नियुक्ति के पहले संविलियन का इंतज़ार कर रहे 48 हज़ार शिक्षाकर्मियों का संविलियन हो जाये, तो भूपेश बघेल जी का आभार रहेगा। हम बेसब्री से इंतज़ार कर रहे बजट के संविलियन के प्रस्ताव को शामिल करने और उसके एलान किये जाने का।

संविलियन का भी प्रस्ताव








 शिक्षा विभाग के बजट को लेकर मुख्यमंत्री ने मंत्री प्रेमसाय सिंह से चर्चा हो चुकी है। जानकारी के मुताबिक शिक्षा विभाग की तरफ से संविलियन का भी प्रस्ताव दिया गया।  करीब 48 हज़ार शिक्षाकर्मियों का प्रस्ताव दिया गया है। हालांकि अब गेंद मुख्यमंत्री के पाले में है। विभाग की तरफ से आये प्रस्ताव में से किन प्रस्तावों को बजट में शामिल किया जाना है, इसे लेकर अब मुख्यमंत्री को तय करना है। इस से पहले ही मंत्री प्रेमसाय सिंह ने शिक्षाकर्मियों के संविलियन को लेकर तैयार कर लिया था। पिछली बार  भी अनुपूरक बजट को लेकर चर्चा थी कि शिक्षाकर्मियों का संविलियन हो सकता है। हालांकि अभी भी ये पूरी तरह से साफ नही है कि संविलियन होगा ही, क्योंकि शिक्षाकर्मियों के संविलियन का प्रस्ताव तो विभाग ने दे दिया है, उसे बजट में शामिल करना है या नहीं और करना है तो किस रूप में तय करना है, ये मुख्यमंत्री ही तय करेंग।




बुधवार की शाम हुई इस बैठक में मुख्यमंत्री ने शिक्षक के बजटीय प्रावधान और नये प्रस्ताव को लेकर चर्चा की। चर्चा है कि शिक्षा विभाग ने स्कूलों के उन्नयन, आंगनबाड़ी को छोटे बच्चों के स्कूल में उन्नयन किये जाने के साथ-साथ शिक्षकों को लेकर भी कुछ प्रस्ताव दिये हैं। शिक्षाकर्मियों के संविलियन को लेकर भी चर्चा बैठक में हुई है, लेकिन अभी पूरी जानकारी नहीं आयी है कि आखिरकार चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री और शिक्षामंत्री के संविलि
मंत्री प्रेमसाय सिंह के साथ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बजटीय प्रस्ताव को लेकर 1 घंटे से ज्यादा वक्त तक चर्चा की थी। स्कूलों में सुविधा बढ़ाने और शिक्षा का स्तर बढ़ाने को लेकर प्रस्ताव शिक्षा विभाग ने बजट के प्रावधान के साथ राज्य सरकार को सौंपा है। शिक्षकों की नियुक्ति, स्कूलों में बच्चों को पोषण युक्त भोजन दिये जाने को लेकर भी कुछ अलग से प्रावधान करने का प्रस्ताव दिया गया है।
अब इन प्रस्तावों के आधार पर राज्य सरकार फैसला लेगी, कि शिक्षा विभाग के किन-किन प्रस्तावों को बजट में शामिल किया जाये, ताकि उसके आधार पर बजट में घोषणाएं की जा सके।
Read More

शिक्षाकर्मी भर्ती परीक्षा - 2019 , CM के ऐलान के 48 घंटे के भीतर शिक्षकों की भर्ती की प्रक्रिया शुरू

January 29, 2019 0
बेरोजगारों के लिए बड़ी खुशखबरी है! अब जल्द ही 15 हज़ार शिक्षकों का विज्ञापन निकलने वाला है। मुख्यमंत्री की घोषणा के बाद अब स्कूल शिक्षा विभाग ने तैयारी शुरू कर दी है। दरअसल मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 26 जनवरी को 15 हज़ार शिक्षकों की बहाली के एलान किया था। इस एलान के बाद अब विभाग ने अपने स्तर से तैयारी शुरू कर दी है। शिक्षा विभाग ने सभी DEO और जॉइंट डायरेक्टर को पत्र भेजकर जिले में स्वीकृत पद की जानकारी मांगी है। साथ ही आदेश में इस पत्र को प्रथमिकता में सबसे ऊपर रखने की हिदायत दी गयी है। आदेश में मांगी गई जानकारी के मुताबिक एजुकेशन और ट्राइबल दोनो विभागों के अंतर्गत संविलियन किये गए शिक्षाकर्मियों का डाटा भेजने को कहा गया है। आदेश में साफ कहा गया है कि समय सीमा में प्राप्त नहीं होने वाली सूचना पर उस जिले की भर्तियों को प्रस्तावित नहीं किया जाएगा।साथ ही सूचना नहीं भेजने पर DEO और जॉइंट डायरेक्टर को इसके लिए जिम्मेदार भी माना जायेगा।

 मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के संबोधन ने इस बात की तरफ इशारा कर दिया है। अब सीधे शिक्षक की नियुक्ति होगी और वो भी शिक्षा विभाग के जरिये। आज मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 15 हज़ार शिक्षक की बहाली का एलान किया है। इस एलान में जो सबसे अहम बात है, वो है शिक्षा विभाग के जरिये बहाली होगी।

ये संकेत उस लिहाज से भी अहम है क्योंकि जो 20 सालों से शिक्षाकर्मियों की नियुक्ति की जो परंपरा चली आ रही थी, वो परम्परा अब खत्म हो जाएगी। ये ना सिर्फ युवाओं के लिए खुशखबरी है, बल्कि संविलियन का इंतज़ार कर रहे शिक्षाकर्मियों की उम्मीदें भी बढ़ गयी है कि अब नई सरकार में उनके दिन बहुरेंगे। आपको बता दें प्रदेश में अभी 48 हज़ार शिक्षाकर्मी हैं, जिनका संविलियन नहीं हुआ है, जिनमें से करीब 10 हज़ार से ज्यादा शिक्षाकर्मियों का संविलियन सरकार को इसी साल जुलाई के बाद करना होगा, बाकी बचे 20 हज़ार के करीब ही संविलियन में बचेंगे। आपको बता दें भूपेश सरकार ने अपने घोषणा पत्र में इस बात की घोषणा की है, कि 2 साल की सेवा पूरी कर चुके शिक्षाकर्मियों का संविलियन कर दिया जाएगा। लिहाज़ा कल जब मुख्यमंत्री भूपेश बघेल NSUI के कार्यक्रम में पहुंचे थे, तो उस दौरान भी उन्होंने कहा कि, शिक्षाकर्मियों के लिए भी बहुत कुछ करना है। 54 हज़ार शिक्षाकर्मियों के पद रिक्त हैं वो भी भरना है। लेकिन उन सब के बीच मुख्यमंत्री का गणतंत्र दिवस पर 15 हज़ार शिक्षक की शिक्षा विभाग के जरिये बहाली के एलान ने सभी शिक्षा कर्मियों के साथ युवाओं में भी जोश भर दिया है, कि अब कुछ ना कुछ बेहतर होगा।

छत्तीसगढ़ पंचायत एवम नगरीय निकाय शिक्षक संघ प्रदेश मीडिया प्रभारी विवेक दुबे के मुताबिक सरकार का ये एलान बहुत शुभ संकेत है, साथ ये संकेत मिलना कि अब नियुक्ति शिक्षा विभाग के जरिये होगी युवाओं के भविष्य को लेकर निश्चिन्तता का भी संकेत है। 15 हज़ार शिक्षा विभाग के जरिये नियुक्ति होगी, इसका स्वागत करते हैं, लेकिन नयी नियुक्ति के पहले संविलियन का इंतज़ार कर रहे 48 हज़ार शिक्षाकर्मियों का संविलियन हो जाये, तो भूपेश बघेल जी का आभार रहेगा। हम बेसब्री से इंतज़ार कर रहे बजट के संविलियन के प्रस्ताव को शामिल करने और उसके एलान किये जाने का।

संविलियन का भी प्रस्ताव








 शिक्षा विभाग के बजट को लेकर मुख्यमंत्री ने मंत्री प्रेमसाय सिंह से चर्चा हो चुकी है। जानकारी के मुताबिक शिक्षा विभाग की तरफ से संविलियन का भी प्रस्ताव दिया गया।  करीब 48 हज़ार शिक्षाकर्मियों का प्रस्ताव दिया गया है। हालांकि अब गेंद मुख्यमंत्री के पाले में है। विभाग की तरफ से आये प्रस्ताव में से किन प्रस्तावों को बजट में शामिल किया जाना है, इसे लेकर अब मुख्यमंत्री को तय करना है। इस से पहले ही मंत्री प्रेमसाय सिंह ने शिक्षाकर्मियों के संविलियन को लेकर तैयार कर लिया था। पिछली बार  भी अनुपूरक बजट को लेकर चर्चा थी कि शिक्षाकर्मियों का संविलियन हो सकता है। हालांकि अभी भी ये पूरी तरह से साफ नही है कि संविलियन होगा ही, क्योंकि शिक्षाकर्मियों के संविलियन का प्रस्ताव तो विभाग ने दे दिया है, उसे बजट में शामिल करना है या नहीं और करना है तो किस रूप में तय करना है, ये मुख्यमंत्री ही तय करेंग।




बुधवार की शाम हुई इस बैठक में मुख्यमंत्री ने शिक्षक के बजटीय प्रावधान और नये प्रस्ताव को लेकर चर्चा की। चर्चा है कि शिक्षा विभाग ने स्कूलों के उन्नयन, आंगनबाड़ी को छोटे बच्चों के स्कूल में उन्नयन किये जाने के साथ-साथ शिक्षकों को लेकर भी कुछ प्रस्ताव दिये हैं। शिक्षाकर्मियों के संविलियन को लेकर भी चर्चा बैठक में हुई है, लेकिन अभी पूरी जानकारी नहीं आयी है कि आखिरकार चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री और शिक्षामंत्री के संविलि
मंत्री प्रेमसाय सिंह के साथ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बजटीय प्रस्ताव को लेकर 1 घंटे से ज्यादा वक्त तक चर्चा की थी। स्कूलों में सुविधा बढ़ाने और शिक्षा का स्तर बढ़ाने को लेकर प्रस्ताव शिक्षा विभाग ने बजट के प्रावधान के साथ राज्य सरकार को सौंपा है। शिक्षकों की नियुक्ति, स्कूलों में बच्चों को पोषण युक्त भोजन दिये जाने को लेकर भी कुछ अलग से प्रावधान करने का प्रस्ताव दिया गया है।
अब इन प्रस्तावों के आधार पर राज्य सरकार फैसला लेगी, कि शिक्षा विभाग के किन-किन प्रस्तावों को बजट में शामिल किया जाये, ताकि उसके आधार पर बजट में घोषणाएं की जा सके।
Read More

Saturday, January 19, 2019

SAIL भिलाई भर्ती 2019 SAIL भर्ती 2019 ,153 रिक्त पदों को भरने के लिए आवेदन आमंत्रित अंतिम तिथि: 9 फरवरी 2019

January 19, 2019 0
SAIL भिलाई भर्ती 2019 SAIL भर्ती 2019: स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड, भिलाई ने फायर इंजीनियर, ऑपरेटर सह तकनीशियन, जूनियर स्टाफ नर्स, फार्मासिस्ट, जूनियर मेडिकल टेक्नोलॉजिस्ट, अटेंडेंट कम तकनीशियन और ब्लास्टर पद के लिए पात्र आवेदकों को भर्ती के लिए अधिसूचना जारी की। इन पदों के 153 रिक्त पदों को भरने के लिए आवेदन आमंत्रित किए जा रहे हैं। इच्छुक आवेदकों को ऑनलाइन आवेदन करना होगा। SAIL भिलाई स्टील प्लांट Bharti 2019 के लिए ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 9 फरवरी 2019 है। SAIL भर्ती 2019 के ऑनलाइन आवेदन और ऑनलाइन आवेदन लिंक का विवरण इस प्रकार है



सेल भिलाई इस्पात संयंत्र भारती 2019 विवरण यहाँ दिए गए हैं ऐसे पात्र आवेदक ऑनलाइन आवेदन जमा करके आवेदन कर सकते हैं।



  •  विभाग का नाम: स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड, 
  • भिलाई नाम पद: फायर इंजीनियर, ऑपरेटर सह तकनीशियन, जूनियर स्टाफ नर्स, फार्मासिस्ट, जूनियर मेडिकल टेक्नोलॉजिस्ट, अटेंडेंट कम तकनीशियन और ब्लास्टर 
  • पदों की संख्या: 153 
  • रिक्तियां आधिकारिक वेबसाइट: www.sail.co.in 
  • नौकरी का स्थान: भिलाई 
  • अंतिम तिथि: 9 फरवरी 2019 सेल भिलाई इस्पात संयंत्र भारती 2019 के लिए 
रिक्ति का विवरण
 पदों का नाम वैकेंसी -
01. फायर इंजीनियर-03 
02. ऑपरेटर सह तकनीशियन (प्रशिक्षु) 116 
03. जूनियर स्टाफ नर्स 08 
04. फार्मासिस्ट (प्रशिक्षु) 05 
05. जूनियर मेडिकल टेक्नोलॉजिस्ट 17 
06. परिचारक सह तकनीशियन 3 
07. ब्लास्टर 01 
सेल भर्ती 2019 के लिए आयु सीमा
  • 18 से 28 वर्ष होनी चाहिए 
  • एससी / एसटी वर्ग के आवेदकों के लिए 5 वर्ष की छूट 
  • ओबीसी श्रेणी के आवेदकों के लिए 3 वर्ष की छूट

 सेल भारती 2019 के लिए आवेदन प्रक्रिया: SAIL भर्ती 2019 का विवरण नीचे दिया गया है। पदों के लिए योग्य आवेदक ऑनलाइन आवेदन करने के लिए ऑनलाइन आवेदन के बाद उपयोग कर सकते हैं ऑनलाइन आवेदन 19 जनवरी 2019 से शुरू होंगे सभी आवश्यक विवरणों का उल्लेख करके ऑनलाइन आवेदन पत्र भरें आवेदकों को आवेदन लिंक में अपने सभी आवश्यक विवरणों का उल्लेख करना होगा अंतिम तिथि से पहले ऑनलाइन आवेदन पूरा करें SAIL भिलाई भर्ती 2019 के लिए 



महत्वपूर्ण तिथियां
  • प्रारंभिक तिथि: 19 जनवरी 2019 
  • ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि: 9 फरवरी 2019



महत्वपूर्ण लिंक 



Read More

SAIL भिलाई भर्ती 2019 SAIL भर्ती 2019 ,153 रिक्त पदों को भरने के लिए आवेदन आमंत्रित अंतिम तिथि: 9 फरवरी 2019

January 19, 2019 0
SAIL भिलाई भर्ती 2019 SAIL भर्ती 2019: स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड, भिलाई ने फायर इंजीनियर, ऑपरेटर सह तकनीशियन, जूनियर स्टाफ नर्स, फार्मासिस्ट, जूनियर मेडिकल टेक्नोलॉजिस्ट, अटेंडेंट कम तकनीशियन और ब्लास्टर पद के लिए पात्र आवेदकों को भर्ती के लिए अधिसूचना जारी की। इन पदों के 153 रिक्त पदों को भरने के लिए आवेदन आमंत्रित किए जा रहे हैं। इच्छुक आवेदकों को ऑनलाइन आवेदन करना होगा। SAIL भिलाई स्टील प्लांट Bharti 2019 के लिए ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 9 फरवरी 2019 है। SAIL भर्ती 2019 के ऑनलाइन आवेदन और ऑनलाइन आवेदन लिंक का विवरण इस प्रकार है



सेल भिलाई इस्पात संयंत्र भारती 2019 विवरण यहाँ दिए गए हैं ऐसे पात्र आवेदक ऑनलाइन आवेदन जमा करके आवेदन कर सकते हैं।



  •  विभाग का नाम: स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड, 
  • भिलाई नाम पद: फायर इंजीनियर, ऑपरेटर सह तकनीशियन, जूनियर स्टाफ नर्स, फार्मासिस्ट, जूनियर मेडिकल टेक्नोलॉजिस्ट, अटेंडेंट कम तकनीशियन और ब्लास्टर 
  • पदों की संख्या: 153 
  • रिक्तियां आधिकारिक वेबसाइट: www.sail.co.in 
  • नौकरी का स्थान: भिलाई 
  • अंतिम तिथि: 9 फरवरी 2019 सेल भिलाई इस्पात संयंत्र भारती 2019 के लिए 
रिक्ति का विवरण
 पदों का नाम वैकेंसी -
01. फायर इंजीनियर-03 
02. ऑपरेटर सह तकनीशियन (प्रशिक्षु) 116 
03. जूनियर स्टाफ नर्स 08 
04. फार्मासिस्ट (प्रशिक्षु) 05 
05. जूनियर मेडिकल टेक्नोलॉजिस्ट 17 
06. परिचारक सह तकनीशियन 3 
07. ब्लास्टर 01 
सेल भर्ती 2019 के लिए आयु सीमा
  • 18 से 28 वर्ष होनी चाहिए 
  • एससी / एसटी वर्ग के आवेदकों के लिए 5 वर्ष की छूट 
  • ओबीसी श्रेणी के आवेदकों के लिए 3 वर्ष की छूट

 सेल भारती 2019 के लिए आवेदन प्रक्रिया: SAIL भर्ती 2019 का विवरण नीचे दिया गया है। पदों के लिए योग्य आवेदक ऑनलाइन आवेदन करने के लिए ऑनलाइन आवेदन के बाद उपयोग कर सकते हैं ऑनलाइन आवेदन 19 जनवरी 2019 से शुरू होंगे सभी आवश्यक विवरणों का उल्लेख करके ऑनलाइन आवेदन पत्र भरें आवेदकों को आवेदन लिंक में अपने सभी आवश्यक विवरणों का उल्लेख करना होगा अंतिम तिथि से पहले ऑनलाइन आवेदन पूरा करें SAIL भिलाई भर्ती 2019 के लिए 



महत्वपूर्ण तिथियां
  • प्रारंभिक तिथि: 19 जनवरी 2019 
  • ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि: 9 फरवरी 2019



महत्वपूर्ण लिंक 



Read More

Post Top Ad